• 7k Network

अनाचार या सदाचार?

#सतदर्शन

हर एक के
हर सदाचार का सुफल
और
अनाचार का दंड
पूर्णतः सुनिश्चित हैं..!
इसीलिए;
अनाचारियों से अप्रभावित रह,
सत्कर्म करते रहिये!
-‘#सत्यार्चन_का_सतदर्शन’

traffictail
Author: traffictail

Leave a Comment





यह भी पढ़ें