कर ले दुनियाँ मुट्ठी में!

द्वारा प्रकाशित किया गया
कर ले दुनियाँ मुट्ठी में!


मैं हो जाऊँ गर तेरी
तो.. मेरी मुट्ठी में कैद 
#ये_नायाब_दुनियाँ भी होगी तेरी!
मैं हूँ #ख्वाहिश तो हर एक की
और हूँ एक-एक के भीतर ही!
#मैं_नेकी_हूँ!
#अपना_बना_ले तू मुझको..!
और  #कर_ले _दुनियाँ_मुट्ठी_में !
-‘#सत्यार्चन_का_सतदर्शन’

अच्छा या बुरा जैसा लगा बतायें ... अच्छाई को प्रोत्साहन मिलेगा ... बुराई दूर की जा सकेगी...

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s